वो तसव्वुर जो अकेले में हँसाती थी कभी,
वो परी जो ख्यालों में आती थी कभी,
जिसके आने से हवाएं भी महक उठती थी,
वो जो चलती हुई सबा को जलाती थी कभी,
जिसके हँसी ने गुलों को भी सलीका बख्शा,
जो बिंदास सी लहरों को सिखाती थी कभी,
सारे तारों की चमक मंद किए देती थी,
वो जो पलकों को नजाकत से उठती थी कभी…
अब के दुशवार है क्यूँ उसका तसव्वुर करना,
जिसकी आँखें मेरे यादों को सजाती थी कभी।

2 Comments:

Palak said...

sab lines itni khubsurat hai ki mere pass is waqt lfaz nahi hai is ki taif ke liye ..
bus ek hi sabd keh saktay hai abhi.. lajawab.....

Adams Kevin said...

म एडम्स KEVIN, Aiico बीमा plc को एक प्रतिनिधि, हामी भरोसा र एक ऋण बाहिर दिन मा व्यक्तिगत मतभेद आदर। हामी ऋण चासो दर को 2% प्रदान गर्नेछ। तपाईं यस व्यवसाय मा चासो हो भने अब आफ्नो ऋण कागजातहरू ठीक जारी हस्तांतरण ई-मेल (adams.credi@gmail.com) गरेर हामीलाई सम्पर्क। Plc.you पनि इमेल गरेर हामीलाई सम्पर्क गर्न सक्नुहुन्छ तपाईं aiico बीमा गर्न धेरै स्वागत छ भने व्यापार वा स्कूल स्थापित गर्न एक ऋण आवश्यकता हो (aiicco_insuranceplc@yahoo.com) हामी सन्तुलन स्थानान्तरण अनुरोध गर्न सक्छौं पहिलो हप्ता।

व्यक्तिगत व्यवसायका लागि ऋण चाहिन्छ? तपाईं आफ्नो इमेल संपर्क भने उपरोक्त तुरुन्तै आफ्नो ऋण स्थानान्तरण प्रक्रिया गर्न
ठीक।