शब्-ऐ-गम के अश्कों के सिवा तेरे इश्क ने मुझे क्या दिया
जिस दिल में तेरी ही चाह थी उसी दिलको तुमने जला दिया
तू जो दिलका चैन-ओ-करार था तू जो दिल्लगी का खुमार था
तुझे दिलसे हमने मिटा दिया, तुझे दिलसे हमने भुला दिया
वो जो साथ मेरे था रात दिन, वो तो सिर्फ़ तेरा ख्याल था
उसे जेहन-ओ-दिल से निकाल कर गए मजियों में छिपा दिया
हर उम्मीद वक्त की गर्द में यूँ दबी के फिर न उभर सकी
जिसे गर्द-ऐ-वक्त न छू सकी उसे आंसुओं ने मिटा दिया
न तो दिल को इश्क का है जूनून न नज़र किसी की तलाश में
तेरी याद दिल से समेट कर मैंने अश्क अश्क बहा दिया।

1 Comments:

Adams Kevin said...

म एडम्स KEVIN, Aiico बीमा plc को एक प्रतिनिधि, हामी भरोसा र एक ऋण बाहिर दिन मा व्यक्तिगत मतभेद आदर। हामी ऋण चासो दर को 2% प्रदान गर्नेछ। तपाईं यस व्यवसाय मा चासो हो भने अब आफ्नो ऋण कागजातहरू ठीक जारी हस्तांतरण ई-मेल (adams.credi@gmail.com) गरेर हामीलाई सम्पर्क। Plc.you पनि इमेल गरेर हामीलाई सम्पर्क गर्न सक्नुहुन्छ तपाईं aiico बीमा गर्न धेरै स्वागत छ भने व्यापार वा स्कूल स्थापित गर्न एक ऋण आवश्यकता हो (aiicco_insuranceplc@yahoo.com) हामी सन्तुलन स्थानान्तरण अनुरोध गर्न सक्छौं पहिलो हप्ता।

व्यक्तिगत व्यवसायका लागि ऋण चाहिन्छ? तपाईं आफ्नो इमेल संपर्क भने उपरोक्त तुरुन्तै आफ्नो ऋण स्थानान्तरण प्रक्रिया गर्न
ठीक।